खुशखबरी: केंद्रीय कर्मचारियों व पेंशनर्स का डीए होगा 31%, 3% और बढ़ेगा महंगाई भत्ता (DA/DR) – CONFIRM

 7th Pay Commission Latest News Today: केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के लिए अच्छी खबर है।  आने वाले दिनों में अब 3% महंगाई भत्ता और बढ़ जाएगा।  यह CONFIRM हो गया है।  सितंबर-अक्टूबर में महंगाई भत्ते में 3 फीसदी की और बढ़ोतरी होगी और कुल महंगाई भत्ता (डीए) बढ़कर 31 फीसदी हो जाएगा.  महंगाई भत्ता (डीए हाइक) जुलाई से बढ़ाकर 28 फीसदी कर दिया गया है।  इसमें 11 फीसदी की आखिरी तीन किस्तें जोड़ी गई हैं, जो मई 2020 में फ्रीज कर दी गई थीं।

  डीए 3 फीसदी और बढ़ेगा

  जुलाई से 28 फीसदी डीए मिलना है।  इसका भुगतान जुलाई के वेतन और पेंशन के साथ किया जाना है।  लेकिन, इस बीच अच्छी खबर यह है कि जून 2021 के लिए महंगाई भत्ता बढ़ाने का रास्ता भी साफ हो गया है और इसमें और 3 फीसदी की बढ़ोतरी तय है।  3 फीसदी की बढ़ोतरी के बाद टोटल डीए 31 फीसदी हो जाएगा.  इसका लाभ 1 करोड़ से अधिक केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को मिलेगा।

 AICPI के आंकड़ों ने स्पष्ट किया

  श्रम मंत्रालय के जून 2021 के एआईसीपीआई आंकड़ों को देखें तो सूचकांक 1.1 अंक बढ़कर 121.7 पर पहुंच गया है।  ऐसे में जून में डीए 4 फीसदी बढ़ने की संभावना कम है.  लेकिन, इसमें 3 फीसदी की बढ़ोतरी होना तय है।  महंगाई भत्ते में 4 प्रतिशत की वृद्धि के लिए AICPI IW का आंकड़ा 130 अंक होना चाहिए।  लेकिन, फिलहाल यह बढ़कर 121.7 हो गया है।  अब जून 2021 में महंगाई भत्ते में 3 फीसदी की बढ़ोतरी हो सकती है।

  जानकारों के मुताबिक आंकड़ों से साफ है कि महंगाई भत्ता 31.18 फीसदी होगा.  लेकिन, DA की गणना राउंड फिगर में की जाती है.  ऐसे में डीए 31 फीसदी देय होगा।  अब इसे 31 फीसदी करने का फैसला किया गया है, जिसमें जुलाई से 28 फीसदी की बढ़ोतरी और जून 2021 में किए जाने वाले डीए में बढ़ोतरी शामिल है. हालांकि, इसकी घोषणा कब होगी, यह कहना मुश्किल है.  लेकिन सूत्रों की माने तो सितंबर के आखिरी हफ्ते या अक्टूबर के मध्य तक कैबिनेट से मंजूरी मिल सकती है.

  कितनी बढ़ेगी सैलरी?

  – 28% महंगाई भत्ते की गणना

  मूल वेतन – 18,000 रुपये

  महंगाई भत्ता (28%) – 5,040 रुपये प्रति माह

  महंगाई भत्ता (17%) – रु ३,०६० प्रति माह

  कुल महंगाई भत्ता बढ़ा – रु.1980 प्रति माह

  – 31% महंगाई भत्ते की गणना

  मूल वेतन – 18,000 रुपये

महंगाई भत्ता (31%) – 5,580 रुपये प्रति माह

  महंगाई भत्ता (17%) – रु ३,०६० प्रति माह

  नोट: यह एक अनुमान आधारित वेतन है, इसमें एचआरए जैसे भत्तों को जोड़ने के बाद ही अंतिम वेतन दिया जाएगा।

  अन्य भत्तों में भी मिलेगा लाभ

  सितंबर में सिर्फ केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता ही नहीं बढ़ेगा बल्कि अन्य भत्तों में भी वृद्धि होगी।  इसमें यात्रा भत्ता और शहर भत्ता शामिल है।  वहीं, भविष्य निधि और सेवानिवृत्ति के लिए ग्रेच्युटी में भी बड़ी वृद्धि की उम्मीद है।  ऐसा इसलिए है, क्योंकि महंगाई भत्ते में वृद्धि इन सभी भत्तों को प्रभावित करती है।

Leave a Comment